बुआ ने भतीजे को झटका दिया


अमित मणि त्रिपाठी/जौनपुर:- मायावती ने एक ऐसा फैसला ले लिया है जिससे गठबंधन पर असर पड़ सकता है।बीएसपी ने अपने जौनपुर से प्रत्याशी उतारकर एसपी को तगड़ा झटका दिया है।
बीजेपी को हराने के इरादे से सपा और लोकदल से गठबंधन करने वाली बीएसपी सुप्रीमो ने अखिलेश के मांग को दरकिनार कर दिया। अखिलेश यादव ने अपने चचेरे भाई और मैनपुरी सांसद तेजप्रताप सिंह यादव को जौनपुर से उतारना चाहते थे पर माया ने श्याम सिंह यादव को जौनपुर से अपना उम्मीवार घोषित कर दिया।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज अपने 16 उम्मीवारों का नाम घोषित किया जिसमें वह अपने सहयोगी पार्टी एसपी को तगड़ा झटका दे दिया।
चुकि आजमगढ़ के वर्तमान सांसद और सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को अखिलेश यादव ने मैनपुरी से मैदान में उतारा है और खुद आजमगढ से 18,19अप्रैल को नामांकन दाखिल करने की संभावना है। यही कारण है कि अखिलेश यादव ने तेज प्रताप को जौनपुर से उम्मीदवार बनाने की मांग गठबंधन से की थी पर माया ने उनकी मांग को ठुकरा दिया।
इसके अलावा सपा प्रमुख ने बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी और उनके सहयोगियों को पार्टी में शामिल नहीं करने कहा था पर माया ने इस मांग को भी दरकिनार कर मुख्तार के भाई अफजाल अंसारी को टिकट दे दिया है।
इन दोनों मांगो पर अखिलेश यादव का क्या सोच होगी देखना होगा।

Leave a Comment