जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों पर भारतीय वायुसेना का प्रचंड प्रहार

भारत को आखिरकार पाकिस्तान को समझाना ही पड़ा कि उसकी सहनशीलता को कमजोरी समझने की भूल का मतलब क्या होता है। 14 फ़रवरी को हुए आतंकी हमले में 46 जवानों की शहादत ने हर नागरिक को बेचैन किया हुआ था।जब बहुत समझाने के बाद भी पाकिस्तान ने आतंक के खिलाफ​ अपना रवैया नही बदला तो भारत को POK में घुसकर आतंक के ठिकानों पर हमला करना पड़ा.

इन्नामैक्स न्यूज़ से पूजा पाठक की रिपोर्ट

Leave a Comment